जाने क्यों लगाए जाते है सड़क के डिवाइडर पर पेड़-पौधे

जाने क्यों लगाए जाते है सड़क के डिवाइडर पर पेड़-पौधे

Newz Fast, New Delhi : हम नेशनल हाईवे पर और शहरी सड़कों पर अक्सर सड़कों के बीच में पौधे देखते हैं. इन पौधों को सजाने या प्रदूषण कम करने के लिए लगाया जाता है, यह सोचना आम है. हालांकि, इन पौधों का एक और महत्वपूर्ण उद्देश्य है और वह है सुरक्षा.

रात में गाड़ी चलाते समय, एक तरफ की गाड़ी की हेडलाइट की रोशनी दूसरी तरफ की गाड़ी के चालक की दृष्टि को बाधित कर सकती है. इससे दुर्घटना का खतरा बढ़ सकता है. सड़कों के बीच में पौधे लगाने से यह खतरा कम हो जाता है. पौधे हेडलाइट की रोशनी को रोक लेती हैं, जिससे दूसरी तरफ के ड्राइवर की दृष्टि बेहतर हो जाती है.

डिवाइडर पर लगाए जाते हैं पेड़-पौधे


यह सवाल सबसे पहले क्योरा पर एक यूजर ने पूछा, फिर इसके जवाब में कई सारे जवाब देखने को मिला. सड़के बनाते वक्त बीच में खाली जगहों को छोड़ दिया जाता है, जिसे झाड़ियों और पौधों से सजाया जाता है, जो अमूमन ऐसा मालूम पड़ता है कि यह सिर्फ सुंदरता बढ़ाने के लिए करते हैं, लेकिन असल में ऐसा नहीं है.

यह न सिर्फ सुंदरता बढ़ाने में बल्कि आंखों और मस्तिष्क पर इसके सुखद प्रभाव से भी संबंधित है. ऐसा माना जाता है कि हरा रंग ठंडक का अहसास कराता है, जिससे ड्राइवरों और यात्रियों को समान रूप से राहत मिलती है.

हाईवे के किनारे जानबूझकर हरे-भरे पेड़ लगाए जाते हैं. इससे यात्रियों के लिए शांत वातावरण बनाए रखने का प्रयास किया जाता है.

हाई बीम के यूज के समय बढ़ जाता है खतरा

हाई बीम का उपयोग करते समय यह खतरा और भी बढ़ जाता है. हाई बीम की रोशनी बहुत तेज होती है और इससे दूसरी तरफ के ड्राइवर की दृष्टि पूरी तरह से ढक सकती है.

सड़कों के बीच में पौधे लगाने से हाई बीम की रोशनी को भी कम किया जा सकता है. इसलिए, सड़कों के बीच में पौधे लगाने का मुख्य उद्देश्य सुरक्षा है. ये पौधे दुर्घटनाओं को रोकने में मदद करते हैं और सड़कों पर सुरक्षित ड्राइविंग को बढ़ावा देते हैं. 
 

Share this story